Khali Dil nahi Jaan bhi Mangda (खाली दिल नईयों जान भी मंगता) Lyrics - Hans raj hans

/b:if>
Khali Dil nahi Jaan bhi Mangda (खाली दिल नईयों जान भी मंगता) Lyrics - film kache dhage

this song sung by hans raj hans movie from kachche dhage, ajay devgan, saif ali khan 

गाना - खाली दिल नईयो
गायक - हंस राज हंस, अलका यागनिक
म्यूजिक डायरेक्टर - नूसरत फते अली खान
गीत - आनंद बक्शी
कास्ट- अजय देवगन, सैफ अली खान, नम्रता सिरोडकर, मनीषा कोइराला, बंटी लुथारिया

Khali Dil nahi Jaan bhi Mangda (खाली दिल नईयों जान भी मंगता) Lyrics - Hans raj hans

इश्क़ है पानी का एक कतरा
कतरे में तूफ़ान
एक हाथ में अपना दिल रख ले
एक हाथ में रख ले जान

खली दिल नहीं जान वही यह माँगता
खली दिल नहीं जान वही यह माँगता
इश्क दी गली विच कोई कोई लंगदा
इश्क दी गली विच कोई कोई लंगदा

खली दिल नहीं जान वही यह माँगता
खली दिल नहीं जान वही यह माँगता
इश्क दी गली विच कोई कोई लंगदा
इश्क दी गली विच कोई कोई लंगदा

जोगियों के पीछे जैसे जोग लग जाता है
प्रेमियों को प्रेम वाला रोग लग जाता है
जोगियों के पीछे जैसे जोग लग जाता है
प्रेमियों को प्रेम वाला रोग लग जाता है
लग बचाये दामण लाग लग जाता है
लग बचाये दामण लाग लग जाता है
दिल पे आशिक़ों के निशाने से रंगड़ा
दिल पे आशिक़ों के निशाने से रंगड़ा
हाय
इश्क दी गली विच कोई कोई लंगदा
इश्क दी गली विच कोई कोई लंगदा

खली दिल नहीं जान वही यह माँगता
खली दिल नहीं जान वही यह माँगता
इश्क दी गली विच कोई कोई लंगदा
इश्क दी गली विच कोई कोई लंगदा

दुश्मन है दिल का ऐसा मन का यह मीट है
जग से निराली इस खेल की रीत है
दुश्मन है दिल का ऐसा मन का यह मीट है
जग से निराली इस खेल की रीत है
जीत में हार है हार में जीत है
जीत में हार है हार में जीत है
इश्क़ इश्क़ है मैदाने नहीं जंग डा
इश्क़ इश्क़ है मैदाने नहीं जंग डा

Hayye
इश्क दी गली विच कोई कोई लंगड़ा
इश्क दी गली विच कोई कोई लंगड़ा

नाम है दीवाना दूजा नाम न कोई
नाम है दीवाना दूजा नाम न कोई
प्यार के जैसा बदनाम नहीं कोई
प्यार के जैसा बदनाम नहीं कोई
इश्क़ से बड़ा इलज़ाम नहीं कोई
इश्क़ से बड़ा इलज़ाम नहीं कोई
इश्क़ आशिक़ानो सूलियों पे टंगड़ा
इश्क़ आशिक़ानो सूलियों पे टंगड़ा

Hayye

इश्क दी गली विच कोई कोई लंगदा
इश्क दी गली विच कोई कोई लंगदा
=============================================



Post a Comment

0 Comments