मोटी मोटी अंख (Motti Motti akh) shivjot ft gurlej akhtar lyrics in hindi

/b:if>

मोटी मोटी अंख (Motti Motti akh) lyrics in hindi - this song sung by- shivjot and gurlez akhtar, lyrics by- shivjot. music label- T-series, female lead- myra sareen and more. 

मोटी मोटी अंख (Motti Motti akh) shivjot ft gurlej akhtar lyrics in hindi

मोटी मोटी अंख (Motti Motti akh) lyrics in hindi


वे गद्दिया च रेहंडे क्यूं गलस कच दे
नी एथने जे ला बीना कीठे वड्डे
वे चीरड़ी जंडी ऐ उत्पति थांद कालजे 
नी आव ता मोते पग पचडे

नी कालिया राता च चाडे चांद बंके
नी यार मेरे खद दे न कांड बांके
नि एना गल हुन मिलनो वो रे गया
नी काडा बिलो तेरे ना प्यार हो गया

मोती मोती अख दा शिकर हो गया
नी पटले जी लक्क दा खुमार हो गया
चब्बी 26 साले ते सी मेरे राही काम
करदा नी दिल मेरा आज वासो बहार गया

ओ पेहली पेहली तारीख ता करार हो गया
साहा से जरुरी मैनु यार हो गया इक्की
21 साले तोह सी मेरे वो कम
करदा वे दिल आज मेरा वीर उमर हो गया
दुनगे बडे आशिके दे फत बलिये
नी तेरे ते पागल होया जट्ट बल्लिये
सी फोर्ड दा शकेन बड़ा मुंडा शूरु तोह
नी तेरे पचे रेंज ते सवर हो गया

मोती मोती अख दा शिकर हो गया
नी पटले जी लक्क दा खुमार हो गया
चब्बी 26 साले ते सी मेरे राही काम
करदा नी दिल मेरा आज वासो बहार गया

हो मेन वई दिल विच संभ संखि 
तेनु दूनिया तोह चोरी चोरी तोड़ी
सब किती आ थ्रो वे मेन गोगला
 कदी कटी तू तारीफ मेरी अनख दी

तू तकरी यारा नु गुलकंद बांके
नी कीते शुरात सी दोस्त बांके
नी बिंता कलेजा तू प्लाजो वलिये
नी रूप तेरा तिखी तलवार हो गया

मोती मोती अख दा शंकर हो गया
नी पटले जी लक्क दा खुमार हो गया इक्की
21 साले तोह सी मेरे ये काम कर
वे दिल आज मेरा वी उड़दार हो गया

ओ ताहि सुता ते काम बिलो वैरी दा
सारा शेहर फैन मित्रा दी
यारी दा एसे लगेगा दे
चा हंडे गोरीये नशा वाखरा वह इश्क बमारी दाह

सहेलिया से पासे होके बैन लाग पाई
वे शिवजोत शिव जोत केहन लाग पाई
मुख्य तेरी खयाला विच रे लग लागी
ते सोहना सारा संसार हो गया

तू बच बच बच बच गोरी 
नी मुंडेया दी तेरे उतारे अख गोरीये 
तैयो तेनु की पासंद बिलो ईसे करके
नी डब च जरुरी हाथियार

मोति मोति अख दा शिकर हो गया
नी पटले जी लक्क दा खुमार हो गया
 26 साले ते सी मेरे राही काम करदा
 नी दिल मेरा आज वासो घर हो गया

वी अपनी बना ले सरेआम मुंडया
अल जिंदगी में कित्ती तेरे नाम मुंडया
मेरे लिए तू परांदे चल बरगा
ते होर सारे यादें सितार हो गया

दुनगे बडे आशिके दे फत बलिये
नी तेरे ते पागल होया जट्ट बल्लिये
सी फोर्ड दा शकेन शिवजोत शूरु तोह
नी तेरे पचे रेंज ते सवर हो गया..
=========================================

Post a Comment

0 Comments